व्यापमं घोटाला: झांसी मेडिकल कॉलेज के पच्चीस छात्र सीबीआई के रडार पर

मध्यप्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) के घोटाले की जांच कर रही सीबीआई के रडार पर झांसी के महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज के 25 छात्र भी है। सीबीआई इनका पूरा ब्यौरा जुटा रही है। दस फरवरी को यहां आए सीबीआई के भोपाल विंग के अफसर इनमें से एक छात्र के सारे दस्तावेज अपने साथ ले गए हैं। अब तक सीबीआई की टीम 42 बार मेडिकल कॉलेज में जांच के लिए आ चुकी है।
सीबीआई के शक के दायरे में महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज के वह छात्र हैं, जिनका संबंध मध्यप्रदेश से है। इनमें से तीन छात्रों के सॉल्वर (किसी और की तरफ से पेपर हल करने वाला) होने के भी सुराग मिले हैं। मेडिकल कॉलेज प्रशासन के अनुसार 25 छात्र संदेह के घेरे में हैं।

सीबीआई के अफसर इनकी कॉलेज में जमा फोटो अपने साथ ले गए हैं, साथ ही उन पर और उनके परिजनों पर नजर बनाए हुए हैं। जनवरी में आई सीबीआई टीम ने तीनों छात्रों के संबंध में कॉलेज प्रशासन से और जानकारियां हासिल की। 10 फरवरी को आई सीबीआई टीम एक छात्र के समस्त दस्तावेज भी ले गई है। इसके बाद से कालेज के छात्रों के बीच में हड़कंप मचा हुआ है।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर जांच का अधिकार मिलने के बाद से सीबीआई टीम झांसी के मेडिकल कॉलेज में लगातार आ रही है। शुरुआत में सीबीआई टीम ने मध्यप्रदेश से संबंध रखने वाले छात्रों की सूची कॉलेज प्रशासन से लेकर जांच की।

मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डा. एनएस सेंगर का कहना है कि व्यापमं घोटाले की जांच कर रही सीबीआई टीम दस्तावेज और जानकारी लेने के लिए कॉलेज आती रहती है। 10 फरवरी को एक छात्र के कॉलेज में जमा सारे दस्तावेज सीबीआई ले गई है।

LEAVE A REPLY