एमपीः पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दाम से गिरी सीमांत क्षेत्रों में बिक्री

मध्य प्रदेश के सीमावर्ती इलाकों में पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों का असर साफ दिख रहा है। इन इलाकों में पेट्रोल और डीजल की बिक्री में 70% की रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई है।
पेट्रोल और डीजल के बढते दामों के विरोध में कदम उठाते हुए पेट्रोल कारोबारियों ने सीमांत इलाकों में होर्डिंग्स की मदद से लोगो को जानकारी देनी शुरु कर दी कि एमपी में आने से पहले वाहन की टंकी फुल करा लें।

उत्तर प्रदेश के सीमांत इलाकों में मौजूद पेट्रोल पंपों की होर्डिंग्स पर लिखा है -“डीजल एमपी से 7 रुपये सस्ता” वहीं  राजस्थान की सीमा पर मौजूद पेट्रोल पंपो पर लिखा है “डीजल एमपी से 5 रुपये सस्ता”।

एमपी के ललितपुर के एक व्याक्ति ने बातचीत के दौरान बताया कि रुपये बचाने के लिए पेट्रोल भराने के लिए उन्हें यूपी जाना पड़ता है।

वहीं,कारोबारियों ने बताया कि बिक्री में भारी गिरावट के चलते काफी नुकसान हो रहा है। न सिर्फ एमपी में सभी निकटवर्ती राज्यों के मुकाबले पेट्रोल और डीजल के दाम सबसे महंगे है, बल्कि देश भर में सबसे ज्यादा हैं।

एमपी ने 21.62 रुपये प्रति लीटर का भारी टैक्स पेट्रोल पर और 15.35 रुपये प्रति लीटर का टैक्स डीजल लगाया हुआ है, जो कि देश में सबसे ज्यादा है।

LEAVE A REPLY